Loading...
26 मई, 2011

छायाचित्र:-हमारे पिताजी के साथ चार दिन

मोहल लाल जी ,मेरे पिताजी जिनकी तीसरी पत्नी  से मैं हुआ.

मैं उनके साथ ट्रेन में 

अनुष्का के साथ जो उनकी एकलौती पौती है 

कभी कभार बीडी-सिगरेट पी लेते हैं.


इन्दोर में मेरे साले की सहदे में फुरसत के पल में 

मेरे ससुर प्रहलाद जी सोनी के साथ 








अपनी बहु नंदिनी के साथ 



धोती जब्बा पहनते हुए 





बरात में एक जगह में फुकट में दाड़ी बनवाने के आनंद के साथ 


मेरे सालाजी विनोद जी के साथ उनके रिसेप्सन में 

चुस्की लेते हुए 




सुबह का नास्ता करते हुए 






0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

 
TOP